Friday, February 23, 2024
HomeINDIARahul Gandhi: संसद में राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी को निशाने...

Rahul Gandhi: संसद में राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी को निशाने पर रखा

Rahul Gandhi: राहुल गांधी ने लोकसभा में पीएम नरेंद्र मोदी, उद्योगपति गौतम अदाणी, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से लेकर अग्निवीर योजना को निशाने पर रखा।

Rahul Gandhi: लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में शामिल कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी, गौतम अदाणी, अजीत डोभाल से लेकर केंद्र की अग्निवीर योजना पर जमकर निशाना साधा।

राहुल गांधी ने कहा कि मैंने भारत जोड़ो यात्रा से बहुत कुछ सीखा। राहुल ने कहाकि आज पैदल यात्रा करने की परंपरा खत्म हो गई है। शुरुआत में चलते वक्त हम लोगों की आवाज सुन रहे थे, मगर हमारे दिल में यह भी था कि हम भी अपनी बात रखें। हमने हजारों लोगों से बात की, बुजुर्गों से और महिलाओं से बात की। इस प्रकार से यात्रा हमसे हमसे बात करने लगी।

Rahul Gandhi: लोकसभा में राहुल ने कहाकि कोई गाड़ी, कोई हवाई जहाज में जाता है, लेकिन हम पैदल कम चलते हैं। हम सब जगह पैदल जाएंगे, घबराइए मत। मैं एक-दो किलोमीटर, 10 या 25 किलोमीटर की बात नहीं कर रहा हूं। जब तीन-चार सौ किलोमीटर पैदल चला जाता है, तब शरीर में मुश्किल आती है।

यात्रा की शुरुआत में चलते वक्त लोगों की आवाज हम सुन रहे थे, लेकिन हमारे दिल में यह भी था कि हम भी अपनी बात रखेंगे। कोई हमारे पास आता था, तो कहता था कि मैं बेरोजगार हूं। हम पूछते थे कि आप बेरोज़गार क्यों हो? हम आपकी (सत्ता पक्ष) भी बुराई कर लेते थे।

राहुल ने कहा कि मैंने जिंदगी में इस प्रकार के अनुभव सुने नहीं थे। पांच-छह सौ किलोमीटर चलने के बाद जनता की आवाज गहराई से सुनाई देने लगी। फिर यात्रा हमसे बोलने लगी। यह गहरी बात है। किसानों ने कहाकि हमारी जमीन छीन ली जाती है। जमीन अधिग्रहण बिल लागू नहीं होता।

आदिवासियों ने कहा कि जो कानून में हमें मिलता था, वह आज छीना जा रहा है। बहुत सारी चीजें सुनने को मिलीं, लेकिन मुख्य बातें थीं- बेरोज़गारी, महंगाई और किसान। लोगों ने अग्निवीर की भी बात की।

Rahul Gandhi: राहुल ने कहाकि यात्रा में युवाओं ने हमसे कहाकि हमें पहले सर्विस और पेंशन मिलती थी, लेकिन अब हमें 4 साल के बाद निकाल दिया जाएगा। वरिष्ठ अफसरों ने कहाकि हमें लगता है अग्निवीर योजना हमसे नहीं, बल्कि RSS की ओर से आई है और इसे आर्मी पर थोपा गया है। उन्होंने एनएसए अजीत डोभाल पर भी इस योजना को सेना पर थोपने का आरोप लगाया।

लोकसभा में राहुल गांधी ने कहाकि 2014 में दुनिया के अमीर लोगों की लिस्ट में अडानी 609 नंबर पर थे, पता नहीं जादू हुआ और यह दूसरे नंबर पर आ गए। लोगों ने पूछा आखिर यह सफलता कैसे हुई? और इनका भारत के PM के साथ क्या रिश्ता है? मैं बताता हूं कि यह रिश्ता काफी साल पहले शुरू हुआ, जब नरेंद्र मोदी CM थे।

उन्होंने कहाकि अदाणी के लिए एयरपोर्ट के नियमों में बदलाव किए गए, नियमों को बदला गया और नियम किसने बदले यह जरुरी बात है। यह नियम था कि अगर कोई एयरपोर्ट के व्यवसाय में नहीं है तो वे इन एयरपोर्ट को नहीं ले सकता है। इस नियम को भारत सरकार ने अदाणी के लिए बदला।

लोकसभा में सांसद राहुल ने कहाकि भारत सरकार ने CBI-ED पर दबाव डालकर एजेंसी का प्रयोग करते हुए GVK से लेकर एयरपोर्ट को अडानी सरकार को दिलवाया गया। नियम बदल कर अडानी को 6 एयरपोर्ट दिए गए। मैं इसके सबूत भी दे दूंगा। ड्रोन सेक्टर में भी अदाणी का कोई अनुभव नहीं था।

लोकसभा में सांसद गांधी ने कहाकि प्रधानमंत्री ऑस्ट्रेलिया जाते हैं और जादू से SBI एक बिलियन डॉलर का लोन अदाणी को देता है। प्रधानमंत्री फिर बांग्लादेश गए और 1500 मेगावाट बिजली का ठेका अदाणी को चला जाता है। LIC का पैसा अदाणी की कंपनी में क्यों डाला गया?

लोकसभा में सांसद राहुल गांधी ने कहा कि कुछ दिन पहले हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आई, उसमें लिखा था, अदाणी की भारत के बाहर शेल कंपनी है, सवाल है कि शेल कंपनी किसकी है? हजारों करोड़ रुपया शेल कंपनी भारत में भेज रही है यह किसका पैसा है? क्या यह काम अदाणी फ्री में कर रहा है?

उन्होंने कहाकि अदाणी ने बीजेपी को 20 साल में कितने पैसे दिए? पहले मोदी अदाणी के जहाज में जाते थे, अब अदाणी मोदी के जहाज में जाते हैं। मोदी और अदाणी एक साथ काम कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने कहाकि पहले पीएम मोदी अदाणी के विमान में सफर करते थे। अब अदाणी मोदी जी के विमान में सफर करते हैं। यह मामला पहले गुजरात का था, फिर भारत का हो गया और अब अंतर्राष्ट्रीय हो गया है। अदाणी ने पिछले 20 सालों में और इलेक्टोरल बॉन्ड के जरिए बीजेपी को कितना पैसा दिया?

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments