Thursday, May 30, 2024
HomeEDUCATIONMission Shakti: मिशन शक्ति अभियान को सम्बल देते हैं सेल्फ डिफेन्स प्रशिक्षण:...

Mission Shakti: मिशन शक्ति अभियान को सम्बल देते हैं सेल्फ डिफेन्स प्रशिक्षण: अभय प्रताप

पढ़ाई के साथ सीखें आत्मरक्षा के तौर-तरीके, बढ़ता है खुद पर भरोसा

Mission Shakti: जैकसन ग्रुप ने लेट्स गिव होप फाउंडेशन के सहयोग से आज बाल निकुंज इण्टर कालेज मोहिबुल्लापुर की 800 से अधिक छात्राओं ने सेल्फ डिफेंस ट्रेनिंग हासिल कर आत्मविश्वास बढ़ाया।

ट्रेनिंग पाने वाली छात्रा लक्ष्मी, प्रियांशी, काजल, गरिमा और दीपाली, पारुल ने उत्साह से बताया कि पंचिंग और किकिंग सीखने के बाद लग रहा है कि सड़क पर अकेले चलते समय असुरक्षा का जो डर भीतर जब तब उभर आता था, वह अब नहीं डरायेगा। यहां सीखने के बाद खुद पर इतना भरोसा तो पैदा ही हुआ है।

महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक और कदम रखते हुए आज कालेज परिसर में सक्षम कार्यक्रम के तहत सेल्फ डिफेंस ट्रेनिंग का आयोजन किया गया था।

इस प्रशिक्षण का मकसद छेड़छाड़ और महिला उत्पीड़न जैसी गंभीर समस्याओं पर अंकुश लगाकर बालिकाओं का आत्मविश्वास बढ़ाते हुए उन्हें ऐसे खतरों से खुद निपटने के लिए सक्षम बनाना है।

मुख्य अतिथि पूर्व स्क्वाड्रन लीडर अभय प्रताप सिंह ने कहा कि बेटियों-महिलाओं और समाज के कमजोर तबकों के साथ ही दिव्यांगों को भी ऐसी ट्रेनिंग और अन्य आयोजनों से मानसिक, शारीरिक और आर्थिक रूप से सम्बल प्रदान करना हमारी सामाजिक जिम्मेदारी है।

जैकसन ग्रुप के सीनियर मैनेजर कुमार अविषेक ने कहा कि हम लेट्स गिव होप फाउंडेशन के साथ मिलकर इस मिशन को हम और भी आगे बढ़ाएंगे, अपना सहयोग देते रहेंगे।

प्रबंध निदेशक एचएन जायसवाल और प्रधानाचार्य भगवती भण्डारी का कहना था कि इस एक अच्छे अभियान में हमें जैकसन ग्रुप और लेट्स गिव होप का साथ मिला। हम चाहेंगे कि वे आयोजन अन्य विद्यालयों-महाविद्यालयों में करने के साथ आगे भी हमारे महाविद्यालय को जरूर शामिल करें। हर माता पिता को अपनी बेटियों को पढ़ाई के साथ-साथ आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिलाना चाहिए।

कालेज में ट्रेनिंग देने आये कलारीपयट्टू कर्मा गुरुकुल के प्रशिक्षक इमरान अली का कहना था कि संकट के समय खुद को बचाने के लिए सीखी गई तकनीकें बालिकाओं में आत्मविश्वास पैदा करती हैं और उन्हें सुरक्षित महसूस कराती हैं।

विशेषज्ञों ने युवतियों को मुश्किल समय में या किसी के द्वारा अचानक हमला करने पर कैसे बचें, इसके लिए ब्लॉक, पंचिंग और किकिंग की तकनीक के गुर और बारीकियां भी बतायीं समझाईं।

लेट्स गिव होप फाउंडेशन के संस्थापक आशीष मौर्या ने आभार जताते हुए कहा कि हमारा यह मिशन क्रमशः पूरे उत्तर प्रदेश में चलेगा। कार्यक्रम में छात्राओं के संग सीमा, शिवांगी, हिमांशु, दीपक, अन्य अधिकारी और महाविद्यालय का स्टाफ उपस्थित थाI

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments