Monday, July 22, 2024
HomeBUSINESSMotoGP Karobar: मोटो जीपी में आए एक लाख से ज्यादा विजिटर्स, 9.3...

MotoGP Karobar: मोटो जीपी में आए एक लाख से ज्यादा विजिटर्स, 9.3 अरब का हुआ कारोबार 

सीएम योगी के मार्गदर्शन में सुपरहिट साबित हुआ पहली बार आयोजित मोटो जीपी भारत इवेंट  

तीन दिन में रिकॉर्ड संख्या में बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पहुंचे विजिटर्स, 10 से 15 हजार विदेशी विजिटर्स रहे शामिल 

मोटो जीपी की फाइनल रेस देखने के लिए सर्किट पर उमड़े 50 हजार से अधिक विजिटर्स 

ग्लोबल इवेंट के दौरान व्यापक पैमाने पर हुईं आर्थिक गतिविधियां, 106 मिलियन यूरो के बिजनेस ने बनाया इवेंट को भव्य 

मोटो जीपी, मोटो 2 और मोटो 3 इवेंट में दुनिया की 41 टीमों के 82 राइडर्स ने रफ्तार से भारतीय फैंस को किया रोमांचित 

MotoGP Karobar: उत्तर प्रदेश की ख्याति आज सारी दुनिया में फैल रही है। यह एक ऐसा राज्य बनकर उभर रहा है, जो जिस भी इवेंट को आयोजित करे तो वो सुपरहिट हो जाता है। मोटो जीपी भारत इसका ताजा उदाहरण है। सीएम योगी के निर्देश पर इस इवेंट को लेकर की गई तैयारियों, मेहमानों की आवभगत, सुरक्षा व्यवस्था और बेहतरीन कनेक्टिविटी के चलते इस इवेंट के लिए देश और दुनिया के एक लाख से अधिक लोग ग्रेटर नोएडा स्थित बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पहुंचे। यही नहीं, पहली बार भारत में होस्ट किए गए इस इवेंट के दौरान रिकॉर्ड तोड़ कारोबार भी हुआ। प्राप्त जानकारी के अनुसार मात्र 3 दिनों में 106 मिलियन यूरो (9.33 अरब रुपए से भी ज्यादा) की आर्थिक गतिविधियां हुईं, जो इस इवेंट की सफलता का सबसे बड़ा उदाहरण है। उल्लेखनीय है कि 22 से 24 सितंबर के बीच बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर मोटो जीपी, मोटो 2 और मोटो 3 रेस के दौरान दुनिया की 41 टीमों के 82 राइडर्स ने अपनी रफ्तार से भारतीय फैंस को रोमांचित किया। 

रिकॉर्ड संख्या में पहुंचे विजिटर्स 

भारत में क्रिकेट का जबर्दस्त क्रेज है। क्रिकेट मैचों में हजारों की भीड़ मैदान में बने स्टैंड्स में बैठकर लुत्फ उठाती है। लेकिन क्रिकेट के अलावा दूसरे खेलों का भी यहां पूरा सम्मान है। मोटो जीपी भारत में उमड़ी भीड़ ने इस बात को साबित किया है। बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर इस रेस का लुत्फ उठाने के लिए तीन दिनों में एक लाख से अधिक विजिटर्स यहां पहुंचे और उन्होंने रफ्तार और रोमांच से भरी इस रेस का अपनी आंखों से अवलोकन किया। इन एक लाख विजिटर्स में से 10 हजार से 15 हजार के बीच विदेशी विजिटर्स शामिल रहे। इतनी बड़ी संख्या में विजिटर्स के आने का अनुमान किसी को नहीं था, लेकिन जिस तरह योगी सरकार ने देश के अलग-अलग हिस्सों से आ रहे विजिटर्स के लिए बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट तक पहुंचने के लिए जो तैयारियां कीं, उसका नतीजा रहा कि रिकॉर्ड संख्या में लोगों ने पहली बार भारत में हुई इस रेस का लुत्फ उठाया। 

फाइनल रेस देखने पहुंचे 50 हजार से अधिक विजिटर्स 

22 से 24 सितंबर के बीच सभी दिन बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर विजिटर्स की भारी भीड़ रही। सर्वाधिक विजिटर्स मोटो जीपी की फाइनल रेस के दिन उपस्थित रहे। करीब 50 हजार विजिटर्स ने मार्को बेजेची को रोमांचक मुकाबले में विनर बनते और सीएम योगी को उन्हें ट्रॉफी प्रदान करते हुए देखा। वहीं, दूसरे दिन करीब 30 हजार विजिटर्स ने क्वालीफाईंग और रेस का नजारा देखा तो शुक्रवार को करीब 15 हजार विजिटर्स बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पहुंचे। इसके अलावा 21 सितंबर को भी प्रैक्टिस रेस देखने के लिए हजारों की संख्या में विजिटर्स यहां पहुंचे थे। टीमों के साथ भी 5000 से ज्यादा विदेशी स्टाफ बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर पहुंचा था, तो वहीं 150 के करीब इंटरनेशनल और नेशनल मीडिया के लोग भी इवेंट को कवर करने के लिए मौजूद थे। 

अरबों रुपए की आर्थिक गतिविधियां हुईं संचालित

भारत में पहली बार आयोजित हुई मोटो जीपी का व्यापक आर्थिक प्रभाव भी पड़ा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस ग्लोबल इवेंट के दौरान विभिन्न माध्यमों के जरिए 106 मिलियन यूरो (9.33 अरब रुपए से ज्यादा) की आर्थिक गतिविधियां संचालित हुईं। इसमें ट्रैक के विकास और बुनियादी ढांचे में 50 करोड़ रुपए का पर्याप्त निवेश शामिल है। इन आर्थिक गतिविधियों का लाभ ग्रेटर नोएडा में होटल इंडस्ट्री, रेस्टोरेंट, परिवहन, हॉस्पिटैलिटी समेत कई सेक्टर्स को मिला है। इस इवेंट के दूरगामी परिणाम भी देखने को मिलने वाले हैं, क्योंकि सीएम योगी की अपील पर कई बड़े ब्रांड्स उत्तर प्रदेश में अपने निवेश का विस्तार करने का मन बना रहे हैं और मोटो जीपी की सफलता इसमें अहम भूमिका निभा सकती है। 

सोशल मीडिया ने भी मोटो जीपी के आयोजन के लिए योगी और यूपी को सराहा 

उत्तर प्रदेश ने जिस शानदार अंदाज में मोटो जीपी जैसे इंटरनेशनल इवेंट को आयोजित किया, उसके लिए सोशल मीडिया ने भी सीएम योगी के प्रयासों की जमकर तारीफ की। तारीफ करने वालों में यूपी के अलावा देश के अलग-अलग हिस्सों के यूजर्स शामिल रहे, जबकि विदेशियों ने भी ट्रैक और हॉस्पिटैलिटी को सराहा। डॉ. प्रीति प्रकाश नाम की एक यूजर ने एक्स पर लिखा, मोटो जीपी भारत 2023 में बाइक्स की रफ्तार, उत्तर प्रदेश के विकास की तीव्र रफ्तार को प्रदर्शित करती है। सीएम योगी आदित्यनाथ के सशक्त नेतृत्व में प्रत्येक निवेशक को सुरक्षा की गारंटी दी जाती है। हार्दिक भवसार नाम के यूजर ने लिखा, नोएडा के बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में मोटो जीपी में विश्व भर के चैंपियंस की बाइक की रफ्तार देखते ही बन रही है। सब एक-दूसरे से आगे निकलने की जंग में फर्राटा भरते दिखाई दे रहे हैं। यूपी की ब्राडिंग का यह बेहतरीन मौका है। इसी तरह एक अन्य यूजर ने कहा, पहले “सैफई” में जनता के करोड़ों रुपए खर्च करके नाच-गाना होता था। अब यूपी में ऐसे ‘आयोजन’ होते हैं, जो हमारी यूपी को पूरे विश्व में पहचान दिलाते हैं। वाकई योगी जी ने“नया यूपी” बनाया है, जिसको अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति हासिल हो रही है। विकास सिंह ने लिखा, मोटो जीपी 2023 रेसिंग इवेंट में निवेश, पर्यटन, उद्योग सहित व्यापारिक दृष्टिकोण से छिपी संभावनाओं को देखकर देश-विदेश से आए लोगों ने यूपी सरकार के कामकाज खूब तारीफ की। विदेशी फैंस ने भी खूब तारीफ की। एमिली ई ने लिखा, बुद्ध सर्किट शानदार है। यहां की हॉस्पिटैलिटी बेहतरीन है। उम्मीद है कि अगले साल यहां और भी शानदार इवेंट होगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments