Monday, July 22, 2024
HomeELECTIONKarnataka CM: सिद्धारमैया सीएम और डी के शिवकुमार होंगे कर्नाटक के डिप्टी...

Karnataka CM: सिद्धारमैया सीएम और डी के शिवकुमार होंगे कर्नाटक के डिप्टी सीएम, 20 मई को होगा शपथ ग्रहण

Karnataka CM: सिद्धारमैया कर्नाटक के सीएम और डीके शिवकुमार डिप्टी सीएम होंगे। कांग्रेस ने आज CLP की बैठक बुलाई है। शपथ ग्रहण 20 मई को होगा। कांग्रेस विधायक दल की बैठक 18 मई शाम 7 बजे बेंगलुरु में बुलाई गई है। इसमें कांग्रेस के बड़े नेता शामिल होंगे।

Karnataka CM: कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद 4 दिन से चला आ रहा घमासान खत्म हो गया है। अब मुख्यमंत्री कौन होगा इस पर संस्पेंस लगभग खत्म हो गया है। सिद्धारमैया कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री होंगे और डीके शिवकुमार उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे कर्नाटक सरकार के गठन के लिए आम सहमति पर पहुंचे। वहीं कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) की बैठक आज (18 मई) शाम सात बजे बेंगलुरू में बुलाई गई है।

Karnataka CM: वहीं सूत्रों के मुताबिक शपथ ग्रहण समारोह 20 मई को बेंगलुरू में होगा। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के केंद्रीय पर्यवेक्षकों को सीएलपी बैठक के लिए बेंगलुरु पहुंचने जाने को कहा गया है। इससे पहले बुधवार को कांग्रेस के कर्नाटक प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने कहा था कि कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री के बारे में आज या कल फैसला किया जाएगा और 72 घंटे के भीतर नया मंत्रीमंडल बन जाएगा।

Karnataka CM: बता दें कि इससे पहले कर्नाटक कांग्रेस प्रमुख डीके शिवकुमार ने सुरजेवाला से उनके आवास पर मुलाकात की थी और शिवकुमार ने अपने भाई और पार्टी सांसद डीके सुरेश के आवास पर पार्टी के नेताओं और समर्थकों से भी चर्चा की। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल और कर्नाटक के पार्टी प्रभारी रणदीप सुरजेवाला और पार्टी नेता एमबी पाटिल बुधवार शाम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के आवास पर पहुंचे। 

वेणुगोपाल के आवास पर पहुंचने पर, शिवकुमार ने कहा था कि कहने के लिए कुछ भी नहीं है … हमने इसे आलाकमान पर छोड़ दिया है … आलाकमान फोन करेगा। मैं आराम करने जा रहा हूं। राहुल गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर, शिवकुमार ने पहले कहा था, “कुछ नहीं, कोई चर्चा नहीं। बस प्रणाम…”

सीएम के नाम को लेकर सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार ने दिल्ली में पूर्व सांसद राहुल गांधी से भी मुलाकात की थी। राहुल गांधी को “जननायक” बताते हुए कांग्रेस ने ट्वीट किया कि कर्नाटक में भारी जीत के बाद राहुल गांधी ने डीके शिवकुमार और सिद्धारमैया से मुलाकात की।

Karnataka CM: सूत्रों के अनुसार, शिवकुमार को 6 अहम विभागों के साथ डिप्टी सीएम का प्रस्ताव दिया गया था। दूसरा प्रस्ताव सत्ता के बंटवारे का था। इसके तहत सिद्धरमैया को पहले दो व अगले तीन साल के लिए शिवकुमार को सीएम बनाने का प्रस्ताव था। शिवकुमार ने कहा था कि पहले उन्हें मौका दिया जाए। हालांकि, डिप्टी सीएम बनने के लिए वह किन शर्तों पर माने हैं, इसका खुलासा अभी नहीं हाे सका है। 

बुधवार सुबह पहले सिद्धारमैया ने राहुल गांधी से मुलाकात की। उनके निकलने के कुछ देर बाद ही शिवकुमार पहुंच गए। सूत्रों का दावा है कि इसी दौरान शिवकुमार से सोनिया गांधी की फोन पर बात करवाई गई। भरोसा दिलाने की कोशिश की गई कि उनका त्याग बेकार नहीं जाने दिया जाएगा। लेकिन, शिवकुमार सीएम पद से कम पर तैयार नहीं हुए। 

इससे एक दिन पहले दोनों नेताओं ने खरगे से भी अलग-अलग मुलाकात की थी। तीनों केंद्रीय पर्यवेक्षकों ने भी बुधवार को खरगे से उनके आवास पर मुलाकात की।

वहीं कई दिन बीत जाने के बाद भी मुख्यमंत्री नहीं चुन पाने पर भाजपा ने कांग्रेस पार्टी पर कटाक्ष किया था। कर्नाटक के मुख्यमंत्री का फैसला करने में देरी को लेकर कांग्रेस पार्टी पर कटाक्ष करते हुए, पूर्व सीएम बसवराज बोम्मई ने कहा था कि यह पूर्ण बहुमत प्राप्त करने के बावजूद पार्टी में “एकता की कमी” दिखाता है।

बुधवार को पत्रकारों से बात करते हुए पूर्व सीएम ने कहा कि कर्नाटक के लोगों ने कांग्रेस पार्टी को वोट दिया है इसलिए उसे राज्य में विकास के लिए काम करना चाहिए। साथ ही बोम्मई ने कहा था कि पूर्ण बहुमत मिलने के बावजूद मुख्यमंत्री तय करने में देरी पार्टी में एकता की कमी को दर्शाती है। कांग्रेस पार्टी को राजनीति करना बंद करना चाहिए, नए मुख्यमंत्री का चयन करना चाहिए और सरकार बनाकर लोगों की सेवा करनी चाहिए। बोम्मई ने कहा कि यह कांग्रेस पार्टी का आंतरिक मामला है और वह इसके बारे में और बात नहीं करना चाहेंगे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments